ठाणे, बीमा पॉलिसी के क्लेम और पेंशन का भुगतान करने के नाम पर 3 आरोपियों ने 78 वर्षीय वृद्ध से 15 लाख रुपये ठग लिए। रुपये देने के बाद भी जब बीमा पॉलिसी के एवज में कुछ नहीं मिला, तो वृद्ध श्रीधर सदाशिव वैद्य ने ठाणे के कोपरी पुलिस स्टेशन में प्रीति रावत, अनुराग बंसल और बंदिश गुप्ता के खिलाफ धोखाधड़ी और ठगी का मामला दर्ज कराया।

पुलिस के मुताबिक सेवानिवृत्त वैद्य कोपरी स्थित गुरुदेव सोसाइटी में रहते हैं। वैद्य ने नवंबर 2016 में डेढ़ लाख रुपये प्रीमियम की अदायगी कर एचडीएफसी कंपनी की पेंशन भुगतान वाली दो बीमा पॉलिसी ली थीं। पॉलिसी से प्रति 3 महीने में वैद्य को 30 हजार पेंशन मिलनी थी। वह समय पर प्रीमियम भरते रहे।

जनवरी 2017 में वैद्य को बीमा कंपनी से बंदेश गुप्ता का फोन आया। उसने वैद्य को बताया कि उन्होंने जो पॉलिसी ली हैं, उनमें उनके साथ धोखाधड़ी हुई है, इसलिए उन्हें क्लेम और न पेंशन नहीं मिलेगी। वैद्य को भरोसे में लेकर गुप्ता ने कहा कि अगर वह दूसरी कंपनी की दो पॉलिसी लें, तो वह पिछली पॉलिसी के पैसे दिलवा सकता है।

गुप्ता की बातों में आकर वैद्य ने एक्साइड लाइफ कंपनी की दो नई पॉलिसी ले लीं और उसके देना बैंक के खाते में 1 लाख 85 हजार रुपये जमा करा दिए। पैसे मिलने के बाद गुप्ता गायब हो गया और उसकी जगह मार्च 2017 में प्रीति रावत ने वैद्य को फोन कर बताया कि गुप्ता छुट्टी पर हैं और यदि उन्हें क्लेम चाहिए, तो कुछ शुल्क देना होगा।

इसके बाद, वैद्य ने प्रीति रावत और अनुराग बंसल के बताए खातों में मार्च 2017 से जुलाई 2017 के बीच 22 बार में 15 लाख रुपये जमा कराए। इसके बाद से तीनों के मोबाइल बंद हैं। वैद्य ने शक होने पर तीनों के खिलाफ मामला दर्ज करवाया।