मुंबई, मुंबई तट से करीब 30 नॉटिकल मील की दूरी पर अरब सागर में ऑयल एंड नेचुरल गैस कॉरपोरेशन (ONGC) का एक हेलिकॉप्टर क्रैश हो गया है।  जानकारी के मुताबिक़ इस हेलिकॉप्टर पर 7 लोग सवार थे जिसमे पांच कर्मचारी और दो पायलट सवार थे। जो कंपनी के नॉर्थ फील्ड की ओर जा रहा था। कोस्ट गार्ड ने तीन शव बरामद किए हैं.और वह

नेवी के प्रवक्ता ने बताया कि बचाव अभियान में दो आईएसवी और कोस्ट गार्ड की तीन यूनिट में जुटी हुई है। बताया जा रहा है कि हेलिकॉप्टर ने जूहू से सुबह 10 बजकर 20 मिनट पर उड़ान भरी थी जिसे 10 बजकर 58 मिनट पर लैंड करना था। सूत्रों के मुताबिक सुबह 10 बजकर 20 पर एटीसी और हेलिकॉप्टर के बीच संपर्क टूट गया। हेलिकॉप्टर पर सवार सात लोग ओएनजीसी के कर्मचारी थे और काम पर जा रहे थे।

कोस्ट गार्ड ने अब तक तीन लाशों को मलबे से बरामद किया है बाकी शवों की तलाश की जा रही है। इस बीच ONGC के चेयरमैन भी मुंबई के लिए रवाना हो चुके हैं। कोस्ट गार्ड ने समुद्र से हेलिकॉप्टर का कुछ मलबा बरामद किया।  फिलहाल आधिकारिक तौर पर इसकी कोई पुष्टि नहीं हुई है। वहीं, पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान के मुताबिक, उन्होंने इस बारे में रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण से बात की है और सर्च ऑपरेशन के लिए मदद मांगी है।

 

आपको बता दें कि समुद्र में ओएनजीसी के ऑयल फील्ड तक कर्मचारियों को ले जाए जाने के दौरान पहले भी कई हादसे हो चुके हैं। वर्ष 2003 में भी एक हेलिकॉप्टर अरब सागर में हादसे का शिकार हो गया था। इसमें ओएनजीसी के 23 कर्मचारी मारे गए थे। ऑयल फील्ड में ओएनजीसी ने अपने सैंकड़ों कर्मचारियों को तैनात कर रखा है। उन्हें ले जाने के लिए हेलिकॉप्टर का इस्तेमाल किया जाता है।