मुंबई में एक और मेट्रो लाइन के विस्तार को हरी झंडी मिल गयी है दिखाई गई है। इससे मुंबई मेट्रो-4 (वडाला-कासारवडवली-ठाणे) ठाणे में रहने वालों का सफर सुहाना होने साथ लोकल का भार भी कम होगा। आपको बता दें कि मुंबई महानगर क्षेत्र विकास प्राधिकरण वडाला-ठाणे-कासारवडवली के बीच मेट्रो लाइन 4 का निर्माण कार्य जल्दी ही शुरू करेगा। एमएमआरडीए ने मेट्रो-4 गायमुख तक बढ़ाने की विस्तृत परियोजना रिपोर्ट बनाई थी। इसे शुक्रवार को एमएमआरडीए की बैठक में मंजूरी दी गई। इस विस्तार का नाम मेट्रो-4अ होगा। इससे मेट्रो-4 की लंबाई और 2.68 किलोमीटर और लागत 1000 करोड़ रुपये बढ़ जाएगी। मेट्रो-4 की लंबाई अब 32 किलोमीटर से बढ़कर 34.68 किलोमीटर हो जाएगी। इसकी लागत 15,500 करोड़ रुपये हो जाएगी, जो पहले 14,500 करोड़ रुपये थी।

2023 तक मिलेगी सेवा 

एमएमआरडीए ने बताया कि मेट्रो लाइन-4 के निर्माण कार्य का ठेका देने की प्रक्रिया अंतिम चरण में है। जनवरी के अंत तक इसके लिए ठेकेदार नियुक्त किए जाएंगे। विकास का डीपीआर मंजूर हो गया है, इसलिए जल्द ही इसके लिए निर्माण कार्य के ठेके की प्रक्रिया शुरू की जाएगी। एमएमआरडीए विकसित मेट्रो कॉरिडोर के लिए 450 करोड़ रुपये खुद खर्च करेगा,जबकि बाकी पैसा एशियन इंफ्रास्ट्रक्चर इनवेस्टमेंट बैंक देगा।

2 लाख यात्रियों को फायदा 
मेट्रो-4 के गायमुख तक विस्तार से 2 लाख यात्रियों को फायदा होगा। एमएमआरडीए के अनुसार, मेट्रो-4 को बिना विस्तार के रोज 8 लाख यात्रियों का साथ मिलने का अनुमान था। विस्तार के बाद गायमुख और घोडबंदर रोड से मुंबई की ओर यात्रा करने वाले यात्री भी मेट्रो का उपयोग कर सकेंगे। विस्तार के बाद मेट्रो-4 से रोज करीब 10 लाख यात्री सफर करेंगे। इससे ठाणे-सीएसटी के बीच लोकल ट्रेनों पर यात्रियों का भार कम होगा।