जेठ ने हत्या के बाद किया लाश के साथ बलात्कार

जेठ ने हत्या के बाद किया लाश के साथ बलात्कार
4.0Overall Score
Reader Rating 0 Votes

IMG-20160523-WA0034

मुंबई के मालवणी के खाड़ी में 4 महीने पहले पुलिस को 22 साल की महिला की एक सड़ी हुयी लाश मिली जिसे नंगा कर हाथ पैर बांधकर एक बोरे में डालकर फेका गया था। 4 महीने बाद पुलिस ने इस मर्डर मिस्ट्री केस को सुलझा लिया है। और बताया जा रहा है की ये मामला एक ऑनर किलिंग का है। जिसकी हक़ीक़त को सुनकर आपका दिल भी दहल जायेगा। बदायूं के रहने वाले रूबी और आज़ाद ने 4 साल पहले भागकर दिल्ली में जाकर शादी कर ली. जिसे लेकर दोनों के परिवार नाराज़ थे। लेकिन कुछ दिनों रूबी और आज़ाद का पता लगाते हुए आज़ाद का बड़ा भाई यानि रूबी का जेठ रईस अपने जीजा इश्हाक के साथ दिल्ली पहुंचा और दोनों को समझा बुझाकर उनके ही साथ रहने लगा. लेकिन रईस की गन्दी नज़र उसके भाई की पत्नी रूबी पर थी और जब भी आज़ाद अपने काम से बाहर जाता तो रईस उसकी पत्नी साथ छेड़खानी जिसका रूबी विरोध करती थी लेकिन ये सिलसिला काफी दिन तक चला जिसके बाद परेशान होकर रूबी ने अपने जेठ की शिकायत अपने पति से की तो पति को भी यकीन नहीं हुआ और उल्टा उसने अपनी पत्नी को ही डांटना शुरू कर दिया। जिसके बाद रईस के हौसले और बुलंद हो गए और रूबी को और प्रताड़ित लगा जिसके बाद एकदिन रूबी ने अपने पति को दिल्ली छोड़कर मुंबई चलने को कहा और दोनों मुंबई आ गए और मलवानी इलाके में रहने लगे ।

IMG-20160524-WA0000-169x300
डीसीपी विक्रम देशमाने के मुताबिक़ उसके बाद भी रफीक ने पीछा नहीं छोड़ा और वो भी कुछ दिनों बाद मुंबई आ गया अपने भाई आज़ाद के घर के आसपास ही एक कमरा लिया और रहने लगा लेकिन वो हमेशा अपने भाई और उसकी पत्नी पर नज़र रखने लगा मानो वो किसी बदले के फिराक में है और एक दिन जब रूबी घर पर अकेली थी तो उसने अपने जीजा और एक दोस्त शब्बीर के साथ रूबी को पत्थरों से पीटकर पहले हत्या की और फिर उसकी लाश के साथ बलात्कार की घिनौनी वारदात को अंजाम दिया। और फिर लाश को पूरी तरह से निर्वस्त्र कर हाथ पैर बांधकर एक बोरी में डालकर ठिकाने लगा दिया। इस मामले में 3 आरोपी को गिरफ्तार किया गया है। जिन्होंने 3 जनवरी 2016 को रूबी की बेरहमी से हत्या कर दी थी। इतना ही नहीं जिन तीन आरोपियों ने रूबी की हत्या की उनमें से एक उसी के पति का बड़ा भाई और जीजा है। जिसने ना केवल बेरहमी से हत्या की बल्कि हत्या के बाद उसके शव के साथ बलात्कार भी किया और फिर लाश को पूरी तरह से निर्वस्त्र कर हाथ पैर बांधकर एक बोरी में डालकर ठिकाने लगा दिया। पकडे गए तीनों आरोपियों को 27 मई तक के लिए पुलिस रिमांड में भेज दिया गया है। पुलिस इन आरोपियों से इस हत्या के पीछे की कई और सच्चाई उगलवाने में लगी है।